कविता – दिशा

हिमालय किधर है?
मैंने उस बच्‍चे से पूछा जो स्‍कूल के बाहर
पतंग उड़ा रहा था

उधर-उधर-उसने कहाँ
जिधर उसकी पतंग भागी जा रही थी

मैं स्‍वीकार करूँ
मैंने पहली बार जाना
हिमालय किधर है?